WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

CHHATTISGARH LOK KALAKAR PROTSAHAN YOJNA 2023 | छत्तीसगढ़ में राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन

CHHATTISGARH LOK KALAKAR PROTSAHAN YOJNA 2023 – छत्तीसगढ़ के सांस्कृतिक परिदृश्य की जीवंत छवि में, मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना अपनी समृद्ध कलात्मक विरासत को संरक्षित और बढ़ावा देने के लिए राज्य की अटूट प्रतिबद्धता के प्रमाण के रूप में खड़ी है। कला और संस्कृति की छत्रछाया में स्थापित यह दूरदर्शी पहल, छत्तीसगढ़ क्षेत्र के सार को परिभाषित करने वाली विविध लोक कलाओं, नृत्य रूपों, संगीत परंपराओं, लोक गीतों और पाक कलाओं के लिए समर्थन के एक प्रतीक के रूप में कार्य करती है।

मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना का सार –

लोक कलाओं और संगीत को बढ़ावा देना

छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक पच्चीकारी के मूल में इसकी लोक कलाएं और संगीत परंपराएं हैं, जो लोगों की भावना से गूंजती हैं। अतीत की पीढ़ियों की कहानियाँ सुनाने वाले जटिल नृत्य रूपों से लेकर भूमि के सुख-दुख को प्रतिध्वनित करने वाले मधुर लोकगीतों तक, ये कलात्मक अभिव्यक्तियाँ क्षेत्र के सार को दर्शाती हैं। मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना इन सदियों पुरानी परंपराओं को पहचानती है और उनका जश्न मनाती है, जिससे कलाकारों को फलने-फूलने का मंच मिलता है।

छत्तीसगढ़ी गीतकारों और वाद्ययंत्रकारों को सशक्त बनाना

योजना केवल प्रदर्शन कला का जश्न नहीं मनाती; यह गीतात्मक और वाद्य प्रतिभाओं को समाहित करता है जो छत्तीसगढ़ की कलात्मक कथा में जान फूंक देते हैं। छत्तीसगढ़ी गीतकार, अपने भावपूर्ण गीतों के साथ भूमि के लोकाचार को पकड़ते हुए, इस पहल में अटूट समर्थन पाते हैं। वाद्ययंत्रवादकों, जो श्रोताओं को छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक विरासत के दिल तक ले जाने वाली मनमोहक धुनें बुनते हैं, को भी योजना की छत्रछाया में एक पोषण स्थान मिलता है।

भविष्य का निर्माण: शिल्प कलाकारों का समर्थन

शिल्पकला सदैव छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक पहचान की आधारशिला रही है। शिल्प कलाकारों के कुशल हाथ क्षेत्र की विरासत के सार को दर्शाते हुए उत्कृष्ट टुकड़े बनाते हैं। जटिल वस्त्रों से लेकर विस्तृत लकड़ी के काम तक, ये कारीगर छत्तीसगढ़ की सुंदरता में योगदान देते हैं। मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना न केवल वित्तीय सहायता बल्कि मान्यता भी प्रदान करती है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि उनकी विरासत कायम रहे।

छत्तीसगढ़ का स्वाद: पाककला कला और उससे आगे

पाक कला, जो अक्सर कलात्मक अभिव्यक्ति का एक गुमनाम रूप है, को योजना के माध्यम से उचित मान्यता मिलती है। छत्तीसगढ़ के व्यंजनों का स्वादिष्ट स्वाद इस भूमि की रचनात्मकता और विरासत को प्रदर्शित करता है। पाककला कलाकारों का समर्थन करके, योजना नवाचार को प्रोत्साहित करते हुए पारंपरिक व्यंजनों को संरक्षित करती है, जिसके परिणामस्वरूप पुराने और नए स्वादों का मिश्रण होता है, जो हर प्लेट पर एक कहानी सुनाता है।

कलात्मक उत्कृष्टता का पोषण: योजना के उद्देश्य

मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना मानकीकरण, पारदर्शिता और प्रोत्साहन की नेक खोज में निहित है। इसके उद्देश्य बहुआयामी हैं:

  1. संरक्षण: छत्तीसगढ़ की पहचान को परिभाषित करने वाली विविध लोक कलाओं और सांस्कृतिक परंपराओं की सुरक्षा करना।
  2. पदोन्नति: स्थानीय कलाकारों को उनकी असाधारण प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर पहुँचाना।
  3. प्रोत्साहन: कलाकारों को अपनी कला के लिए समय और प्रयास समर्पित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना।
  4. मान्यता: छत्तीसगढ़ की सांस्कृतिक टेपेस्ट्री में कलाकारों के अमूल्य योगदान को स्वीकार करना।
  5. विकास: कलात्मक अभिव्यक्तियों के निरंतर विकास और विकास के लिए अनुकूल वातावरण को बढ़ावा देना।

छत्तीसगढ़ में राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन

“मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना” के अंतर्गत, राज्य की कला एवं संस्कृति परंपरा के अंतर्गत छत्तीसगढ़ अंचल के विविध लोक कलाओं के प्रति सरकार की समर्पणा प्रकट हो रही है। इस योजना के माध्यम से, छत्तीसगढ़ के आदिवासी, जनजाति और सामाजिक समृद्धि क्षेत्रों में काम करने वाले लोक कलाकारों को यथोचित प्रोत्साहन, सम्मान और आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी।

छत्तीसगढ़ में विभिन्न विधाओं से जुड़े कलाकारों का प्रोत्साहन करने वाले विभाग 

संचालनालय संस्कृति एवं राजभाषा छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल व्यावसायिक परिसर द्वितीय तल, सेक्टर-27, नवा रायपुर, अटल नगर (छ.ग.)  ई-मेल : E-mail: sanskriti.rajbhasha@gmail.com दूरभाष: 0771-2995629

छत्तीसगढ़ लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना में आवेदन की अंतिम तिथि 

25.09.2023

छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना में आवेदन कैसे करें 

ऑनलाइन 

चिन्हारी पोर्टल में पंजीयन कराएँ 

मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना में भाग लेने के लिए नियम एवं शर्तें 

  • चिन्हारी पोर्टल में पंजीयन अनिवार्य है एवं विधावार, निर्धारण वार्षिक प्रोत्साहन न्यूनतम राशि 12,000/- से अधिकतम राशि 24,000/- मात्र ई-पेमेंट के माध्यम से देय होगा ।
  • लाभान्वित होने वाले कलाकार जिसकी सभी स्रोतों से वार्षिक आय राशि रूपये 96,000/- से अधिक न हो। चयनित कलाकारों / दलों को वित्तीय वर्ष में 1 बार प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाएगी तथा आगामी 02 वर्षों के लिए अपात्र होंगे। प्रोत्साहन योजना से संबंधित जानकारी विभागीय वेबसाईट www.cgculture.in पर भी देखी जा सकती है।
  • प्रविष्टियां / प्रस्ताव प्राप्त होने की अंतिम तिथि 25.09.2023 है तथा प्रविष्टियों के लिए लिफाफे में विषय “मुख्यमंत्री लोक कलाकार प्रोत्साहन योजना 20234 स्पष्ट अंकित किया जावे।
  • समिति का निर्णय अंतिम होगा एवं प्रस्तुत की गई प्रविष्टियों के संबंध में कोई भी पत्राचार मान्य नहीं होगा।

My name is Arvind Kumar Singh, I am a resident of Pratappur district Surajpur Chhattisgarh. I have completed my graduation in B.Sc Computer Science from Shri Sai Baba Adarsh Mahavidyalaya, Ambikapur, Surguja University. I am the owner and CEO of cgjobsite.com.

WhatsApp Channel Join Now
Telegram Channel Join Now

Leave a comment

Exit mobile version